एमडीडीए EXCLUSIVE : 253 करोड़ की गड़बड़ी

आप जो न्यूज़ पड़ने जा रहे है उसके बाद आप भी चक्र जाओगे | असल में मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण में 5 साल के दौरान “253 करोड़ से अधिक के कामों में गड़बड़ी का खुलासा हुआ है। यह खुलासा एक साल तक चले स्पेशल ऑडिट में यह मामला सामने आया। वित्त ऑडिट प्रकोष्ठ के संयुक्त सचिव जेसी जोशी ने इसकी रिपोर्ट आवास विभाग को सौंप दी है। अब इस प्रकरण में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। एमडीडीए में लगातार भ्रष्टाचार की शिकायतों के बाद राज्य सरकार ने वर्ष 2013-14 से वर्ष 2017-18 का स्पेशल ऑडिट का निर्णय लिया था। इस स्पेशल ऑडिट में पाया गया कि एमडीडीए के अफसरों ने कई योजनाओं में बड़े स्तर पर गड़बड़ी की है । इससे न सिर्फ सरकारी धन की बर्बादी हुई, बल्कि विकास योजनाएं भी समय पर पूरी नहीं हो सकीं। MDDA  की तरफ ठेकेदारों को ज्यादा भुगतान किया गया। यूपी निर्माण निगम से भी एक करोड़ से अधिक का ब्याज वापस नहीं लिया।  

स्पेशल ऑडिट प्राधिकरण की 13 करोड़ से अधिक की संपत्ति की बिक्री नहीं की गई। अफसरों की लापरवाही की वजह से शेल्टर फंड खाते में जमा 32 करोड़ से अधिक का उपयोग नहीं हो पाया। ठेकेदारों और कई फर्मों को दो करोड़ से अधिक का अग्रिम भुगतान किया गया है । कई ऐसे निर्माण कार्य है जो समय पर पूरे नहीं हुए , इसके बावजूद ठेकेदारों पर अर्थदंड नहीं लगाया गया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *