उत्तराखंड: अश्लील वेबसाइट पर बाबा रामदेव की फोटो लगाकर बेच रहे थे नकली दवा,जाने फिर क्या हुआ

बाबा रामदेव की फोटो इस्तेमाल कर ताकत की नकली दवा और तेल बेचने वाले एक गिरोह का रानीपुर पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। कोतवाल कुंदन सिंह राणा के नेतृत्व में एक पुलिस टीम आगरा से दो आरोपियों को गिरफ्तार कर हरिद्वार लाई है।

दवाई और तेल की ऑनलाइन बुकिंग की जाती थी
पड़ताल में सामने आया है कि बाबा रामदेव का फोटो लगा विज्ञापन अश्लील व पोर्न साइट पर चलाकर दवाई और तेल की ऑनलाइन बुकिंग की जाती थी। विश्वास जीतने के लिए दवाइयों पर बाबा रामदेव का फोटो इस्तेमाल किया जाता था। 
छापा मारकर गिरोह का भंडाफोड़ किया
पतंजलि योगपीठ के प्रतिनिधि राजू वर्मा की ओर से कुछ दिन पहले बहादराबाद थाने में एक मुकदमा दर्ज कराया गया था। जिसमें बताया गया था कि अश्लील वेबसाइट पर बाबा रामदेव की फोटो वाला फर्जी विज्ञापन चलाया जा रहा है। आईटी एक्ट में मुकदमा होने के चलते मामले की जांच रानीपुर कोतवाल कुंदन सिंह राणा को सौंपी गई थी।
आगरा पुलिस व ड्रग्स विभाग भी हरकत में आया
छानबीन के बाद कोतवाल राणा एक टीम लेकर आगरा पहुंचे और सिकंदरा क्षेत्र में छापा मारकर गिरोह का भंडाफोड़ किया। दो आरोपी आकाश शर्मा व सतीश निवासी सिकंदरा आगरा को मौके से गिरफ्तार कर लिया गया। उत्तराखंड पुलिस की छापेमारी से आगरा में हड़कंप मच गया। जिसके बाद आगरा पुलिस व ड्रग्स विभाग भी हरकत में आ गया।
सरगना दिलीप यादव तलाश जारी
ड्रग्स विभाग ने करीब ढाई करोड़ रुपये की फर्जी दवाई व तेल सील किया है। कोतवाल कुंदन सिंह राणा ने बताया कि गिरोह का सरगना दिलीप यादव है, उसकी तलाश की जा रही है। आरोपियों को न्यायालय में पेश कर जेल भेजा गया है