जीत की हैट्रिक लगाने के बाद एमएस धौनी ने बताया, 16 ओवर के बाद मैच किसके बीच था

Share with your friends
ipl-dhoni

चेन्नई सुपर किंग्स यानी सीएसके ने आइपीएल के 14वें सीजन में पहला मैच गंवाया था, लेकिन अब लगातार तीन मैच जीतकर अंकतालिका में पहला स्थान हासिल कर लिया है। कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मुंबई के मैदान पर चेन्नई की टीम को 18 रन से जीत मिली। इस जीत के बाद एमएस धौनी ने कहा कि मैच हाई स्कोरिंग था। ऐसे में 16 ओवर के बाद मैच सिर्फ बल्लेबाज और तेज गेंदबाजों के बीच था।

एमएस धौनी ने कोलकाता के खिलाफ मैच जीतने के बाद कहा, “इस तरह से जीत हासिल करना एक मैच में काफी आसान है। 16 वें ओवर से तेज गेंदबाज और बल्लेबाज के बीच मुकाबला था। आप बहुत अधिक नहीं कर सकते। अलग फील्ड नहीं रख सकते। यह आपके बारे में है। जो टीम जीती है वह एक ऐसी टीम है जिसने थोड़ा बेहतर प्रदर्शन किया है, लेकिन अगर उनके पास अधिक विकेट होते, तो नतीजा अलग हो सकता था।”

उन्होंने आगे कहा, “क्रिकेट में काफी बार देखा है, हमेशा विनम्र रहना पसंद करते हैं। अगर आपने स्कोर किया है तो कोई अच्छा कारण नहीं है कि सामने वाली टीम स्कोर नहीं कर सकती है। खिलाड़ियों के लिए मेरी लाइनें थी कि हमें बोर्ड पर अच्छे रन मिल गए हैं, लेकिन हम विनम्र रहें। आप बहुत जल्दी बहुत विकेट नहीं ले सकते हैं। बिग हिटर 200 रन के स्कोर में ही काम आते हैं, क्योंकि वे एक ही तरीके से खेलते हैं। ऐसे में आप बहुत कुछ नहीं कर सकते।”

वानखेड़े में स्पिन को लेकर धौनी ने कहा, “एकमात्र विकल्प जडेजा थे। यहां थोड़ा टर्ना था, थोड़ा सूखा था। बल्लेबाजी वास्तव में अच्छी रही है। रितुराज वह है जिसने पिछले आइपीएल में अपनी क्लास दिखाई है। आपको हमेशा यह आकलन करने की जरूरत है कि वह मानसिक रूप से कहां है। एक बार जब वह मैदान पर होते तो मैंने उससे पूछा कि तुम आज कैसा महसूस कर रही हो? जब आप उस तरह का प्रश्न करते हैं, तो आप प्रतिक्रियाओं का इंतजार करते हैं, आप देखते हैं कि उसकी आंखों में क्या है। उनकी प्रतिक्रियाओं में यह बताने के लिए पर्याप्त था कि उन्हें फटकारा नहीं गया था। यही मैं अपना सारा जीवन (मनोविज्ञान को लागू करने) करता रहा हूं, लेकिन एक अच्छे तरीके से।”

Share with your friends