चेन्नई के खिलाफ मुंबई का पलड़ा भारी, जानें- क्या कहते हैं आंकड़े, हेड टू हेड रिकॉर्ड

dhoni-rohit

महेंद्र सिंह धौनी (MS Dhoni) की कप्तानी वाली चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) कि टीम भले ही आइपीएल 2021 में शानदार फॉर्म में हो, लेकिन मुंबई इंडियंस (MI) के खिलाफ उसकी राह आसान नहीं होगी। आंकड़े इसके गवाह हैं। दोनों टीमों के बीच अभी तक 30 मैच हुए हैं। मुंबई की टीम को 18 में जीत मिली है। वहीं चेन्नई की टीम केवल  12 मैच ही जीत सकी है। 

मुंबई का पलड़ा भारी

पिछले पांच मैचों की बात करें तो यहां भी मुंबई का पलड़ा भारी दिखाई देता है। मुंबई की टीम इसमें चार मैच जीती है। वहीं एक मैच चेन्नई के नाम रहा है। पिछले साल की बात करें तो दोनों टीमों को एक-एक मैच में जीत मिली थी। आइपीएल  2020 के पहले मैच में चेन्नई ने मुंबई को पांच विकेट से हराया था। यह उस सीजन का पहला मैच था। मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए  20 ओवर में 9 विकेट पर  162 रन बनाए थे। चेन्नई ने इस लक्ष्य को  चार गेंद रहते हासिल कर लिया। अंबाति रायुडू ने इस मैच में 48 गेंदों पर  71 रनों की पारी खेली थी। 

मुंबई ने पिछले मुकाबले में चेन्नई को 10 विकेट से हराया था

आइपीएल  2020 के दूसरे मैच में मुंबई ने शानदार वापसी करते हुए चेन्नई को 10 विकेट से हराया था। चेन्नई की टीम इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट पर  114 रन ही बना सकी थी। ट्रेंट बोल्ट ने  18 रन देकर  4 विकेट लिए थे। इसके जवाब में मुंबई ने यह टारगेट 12.2 ओवर में हासिल कर लिया। 10 विकेट से टीम को जीत मिली।  इशान किशन ने  68 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने छह चौका और पांच छक्के लगाए थे।कोरोना के कारण यूएई में खेले गए पिछले सत्र में चेन्नई का प्रदर्शन बढ़िया नहीं रहा था। पहली बार टीम प्लेऑफ तक नहीं पहुंची थी।