उत्तराखंड: हंसी-खुशी शादी में जाने के लिए निकला था परिवार, पलभर में छिन गया मां का आंचल,जाने पूरी खबर

रुड़की में बाइक सवार दंपती को एक रोडवेज बस ने टक्कर मार दी। इसके बाद उसी बस ने महिला को कुचल दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। महिला की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया है, जबकि शादी की खुशियां भी पलभर में गम में बदल गई।
शमशेर खुशी-खुशी अपनी पत्नी और बेटे के साथ शादी में शामिल होने के लिए निकले थे, लेकिन उन्हें जरा भी इल्म नहीं था कि रास्ते में मौत पत्नी का इंतजार कर रही है। पत्नी की मौत से शमशेर और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। 
शमेशर अपनी पत्नी भूरी और पांच साल के बेटे अलीशान के साथ घर से खुशी-खुशी शादी में शामिल होने के लिए निकले थे, लेकिन उन्हें जरा भी विश्वास नहीं था कि रास्ते में ऐसी घटना घट जाएगी कि सात जन्मों का साथ देने वाली पत्नी हमेशा के लिए ही साथ छोड़ जाएगी। साथ ही बेटे अलीशान से हमेशा के लिए मां का आंचल छीन लिया।
वहीं, सिविल अस्पताल पहुंचे अन्य परिजन भी शव को देख बिलखकर रो पड़े। परिचित और रिश्तेदार परिजनों को समझा रहे थे। पांच साल के बेटे अलीशान को तो यह तक नहीं पता कि उसकी मां अब कभी वापस नहीं आएगी।

वहीं, हादसे की सूचना पर पहुंचे परिजनों ने हाईवे पर शव रखकर हंगामा कर दिया। पुलिस ने शव को एंबुलेंस में ले जाने का प्रयास किया तो परिजन पुलिस से भिड़ गए और धक्का-मुक्की हो गई। किसी तरह पुलिस ने परिजनों को शांत कर शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। साथ ही बस और चालक को पकड़ा। 
पुलिस के अनुसार, थाना बहादराबाद क्षेत्र के गांव एक्कड़ कलां निवासी शमशेर मंगलवार की सुबह अपनी पत्नी भूरी और पांच साल के बेटे अलीशान के साथ बुलेट से रुड़की में एक शादी में शामिल होने आ रहे थे। जैसे ही उनकी बुलेट हरिद्वार हाईवे स्थित बेलड़ी गांव के सामने पहुंची तो पीछे से आ रही एक रोडवेज बस ने उन्हें टक्कर मार दी। बस की टक्कर से भूरी छिटक कर हाईवे पर गिरी। फिर उसी बस ने उसे कुचल दिया।
इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई, जबकि शमशेर और अलीशान हाईवे किनारे जा गिरे। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस व परिजनों को दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। इस बीच परिजन भी मौके पर आ गए और हंगामा कर दिया। पुलिस ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे मुआवजे की जिद पर अड़ गए।
कार्यवाहक कोतवाली प्रभारी दीप कुमार ने बताया कि शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है, जबकि चालक और बस को कब्जे में ले लिया गया है। तहरीर आने पर मामले में कार्रवाई की जाएगी। हाईवे पर हादसा होने के बाद वाहनों की दोनों तरफ लंबी कतार लग गई।
सूचना पर पहुंची पुलिस ने हाईवे पर एक साइड से वाहनों को गुजारने का प्रयास किया, लेकिन इस बीच ग्रामीण और महिला के परिजनों ने हंगामा कर दिया। इसके बाद हाईवे पर वाहनों की आवाजाही बंद हो गई। इससे दोनों तरफ वाहनों की कतार लगने से लंबा जाम लग गया। बाद में पुलिस ने हाईवे खुलवाकर यातायात शुरू करवाया।